नीमच। सुश्री संध्या मरावी, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, नीमच द्वारा समता चौराहे पर तलवार का प्रदर्शन कर आमजन को भयभीत करने वाले आरोपी अजय पिता उमाशंकर शर्मा, आयु-34 वर्ष, निवासी-पठान मोहल्ला, मल्हारगढ़, जिला मन्दसौर को धारा 25 आयुध अधिनियम, 1959 के अंतर्गत 02 वर्ष के कठोर कारावास से दण्डित किया।

श्री रितेश कुमार सोमपुरा, एडीपीओ द्वारा घटना की जानकारी देते हुए बताया कि घटना दिनांक 25.07.2022 को शाम के 07 बजे समता चौराहा स्थित नागेश्वर पान की दुकान के सामने की हैं। पुलिस थाना नीमच केंट में पदस्थ प्रधान आरक्षक रामेश्वर चंदेल को मुखबिर सूचना मिली की समता चौराहे पर एक व्यक्ति तलवार का प्रदर्शन कर आने जाने वाले लोगो को भयभीत कर रहा हैं। मुखबिर सूचना के आधार पर उनके द्वारा चीता आरक्षक के साथ समता चौराहे पर पहुंचे जहां पर आरोपी तलवार का प्रदर्शन कर रहा था, जिसको पकड़कर उसके कब्जे से तलवार जप्त की गई व उसके पास तलवार का लाईसेंस व परमिट नहीं होने से गिरफ्तार कर उसके विरूद्ध पुलिस थाना नीमच केंट में अपराध क्रमांक 425/25 धारा 25 आयुध अधिनियम, 1959 प्रथम सूचना रिपोर्ट पंजीबद्ध कर आवश्यक अनुसंधान पूर्ण कर अभियोग पत्र नीमच न्यायालय में प्रस्तुत किया गया।

प्रकरण के विचारण के दौरान अभियोजन की ओर से जप्तीकर्ता व पंचसाक्षीगण सहित सभी आवश्यक गवाहों के बयान कराते हुए आरोपी द्वारा समता चौराहे पर अवैध तलवार का प्रदर्शन कर आमजन को भयभीत किये जाने के अपराध को संदेह से परे प्रमाणित कराते हुवे उसको कठोर दण्ड से दण्डित किये जाने का निवेदन किया गया। माननीय न्यायालय द्वारा आरोपी को धारा 25 आयुध अधिनियम, 1959 के अंतर्गत 02 वर्ष के कठोर कारावास से दण्डित किया गया। न्यायालय में शासन की ओर से पैरवी श्री रितेश कुमार सोमपुरा, एडीपीओ द्वारा की गई।